इंतज़ार करो और प्रार्थना करते रहो – जय श्री राधे श्याम

​ एक भिखारी एक सेठ के घर के बाहर खडा होकर भजन गा रहा था और बदले में खाने को रोटी मांग रहा था। सेठानी काफ़ी देर से उसको कह रही थी "रुको आ रही हूँ"। रोटी हाथ मे थी पर फ़िर भी कह रही थी की रुको आ रही हूँ। भिखारी भजन गा रहा Read more about इंतज़ार करो और प्रार्थना करते रहो – जय श्री राधे श्याम[…]